Author Archives: writer1

ऐंपण (अल्पना) – अपनी उत्तराखंडी परम्परा

घर की सजावट में ही लोक कला सबसे पहले देखने को मिलती है। दशहरा, दीपावली, नामकरण, जनेऊ आदि शुभ अवसरों पर महिलाएँ घर में ऐंपण (अल्पना) बनाती है। इसके लिए घर, ऑंगन या सीढ़ियों को गेरू से लीपा जाता है। चावल को भिगोकर उसे पीसा जाता है। उसके लेप से आकर्षक चित्र बनाए जाते हैं।…

Read More

कार्बेट पार्क में दुर्लभ लकड़बग्घा

कार्बेट नेशनल पार्क में पहली बार स्तनधारी वर्ग का लकड़बग्घा मिला है. यह कैमरे में ट्रैप हुआ है और इस वन्यजीव के पार्क में मिलने के बाद पार्क प्रशासन में खुशी की लहर है. पार्क निदेशक समीर सिन्हा ने बताया पार्क की दक्षिणी सीमा में लकड़बग्घा देखा गया है. यह प्राणी संरक्षित श्रेणी की प्रजातियों…

Read More

खरसाली में यमुनोत्री दर्शन 15 से

उत्तराखंड सरकार द्वारा चार धाम यात्रा को शीतकाल में भी जारी रखने की कड़ी में यमुनोत्री की शीतकालीन यात्रा खरसाली गांव में 15 दिसंबर से शुरू होगी. खरसाली में शीतकालीन यात्रा की तैयारिया जोरशोर से जारी हैं. खरसाली में यमुनोत्री मंदिर समिति, पंचपंडा समिति जनप्रतिनिधियों ने उत्सव की रूपरेखा तैयार की. यात्रा का शुभारंभ मुख्यमंत्री…

Read More

लाखामंडल : शिव का तीसरा धाम

लाखामंडल का शिव मंदिर, जौनसार बावर की एक ऐसी प्राचीन ऐतिहासिक धरोहर, जो हमें सौभाग्य से मिली है बल्कि यह कहना गलत न होगा की अगर हमारे क्षेत्र के प्रतिनिधि स्वयं इसकी अनदेखी न करते तो शायद केदारनाथ और बदरीनाथ धाम के बाद उत्तराखंड में यह तीसरा प्रमुख “शिव धाम” के नाम से प्रचलित होता,…

Read More

आ रहे हैं मंगलेश और विरेन्द्र राजपूत

कौथिग फाउन्डेशन मुंबई, द्वारा आयोजित कौथिग-२०१५ में इस बार भी धूम मचाने आ रहे हैं उत्तराखंड के कई जाने-माने कलाकार. कौथिग के मंच पर पहली बार उत्तराखंड के लोकप्रिय लोकगायक मंगलेश डंगवाल और विरेन्द्र राजपूत भी आ रहे हैं. साथ ही कौथिग की संगीत संध्या को अपने सुरीले सुरों से सजाने फिर मुंबई आ रही…

Read More

नहीं बदली मुलायम की सोच

उत्तराखंड राज्य बने १४ साल पूरे हो गए, किन्तु मुलायम सिंह की सोच मन फर्क नहीं आया है. पूर्व में उत्तराखंड आन्दोलन को कुचलने का पूरा बल लगा चुके मुलायम आज भी अपनी उसी सोच पर कायम हैं. उत्तराखंड के इतिहास में आन्दोलनकारियों के साथ मुलायम सरकार की करतूतों का काला पन्ना भी हमेशा जुड़ा…

Read More

खोलें निजी शिक्षण संस्थान

उत्तराखंड में उच्च शिक्षा में बढ़-चढ़कर भागीदारी करने के इच्छुक लोगों के लिए खुशखबरी है. यदि आप उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों में उच्च शिक्षण संस्थान खोलने के इच्छुक हैं तो सरकार कई रियायतें डे रही है. इस कड़ी में दूसरी बार निजी उच्च शिक्षण संस्थाओं को प्रोत्साहित करने की नीति में संशोधन किया गया है…

Read More

शीतकाल में भी करें बद्री के दर्शन

बदरीनाथ धाम के कपाट बंद होने के तीन दिन बाद सोमवार से बदरी विशाल की शीतकालीन यात्रा भी शुरू हो गई है. हालांकि प्रशासन और बीकेटीसी की ओर से यात्रा का अभी औपचारिक शुभारंभ नहीं किया गया है. बदरीनाथ धाम के कपाट बंद होने के बाद से बदरीनाथ की शीतकालीन पूजाएं जोशीमठ और पांडुकेश्वर में…

Read More

मयाली कंकण में जन्मी माँ जगदी

नंदू की रौतेली जगदी की उत्पत्ति के संबंध में कहा जाता है कि देवकी की संतान के द्वारा कंस का वध निश्चित था. देवकी की आठवीं संतान द्वारा अपने विनाश की भविष्यवाणी से कंस ने अपनी गर्भवती बहन देवकी को काल कोठरी में डाल दिया. जैसे-जैसे देवकी के प्रसबकाल के दिन नजदीक आने लगे, कंस…

Read More

गढ़वाली फिल्म ‘अंजवाल’ रिलीज

फिल्म देखीतें मजा ऐगी आज, वू बी इतरा बड़ा पर्दा पर. इन सुंदर फिल्म बणाला त आजा छोरा भी किले नी देखला गढ़वाली फिल्म…. (फिल्म देखकर मजा आ गया वह भी इतने बड़े पर्दे पर, ऐसी फिल्म बने तो युवा पीढ़ी क्यों नहीं गढ़वाली फिल्में देखेगी). पहली बार मल्टीप्लेक्स में गढ़वाली फिल्म ‘अंजवाल’ देखने का…

Read More